गूगल कैसे बोलता है : यहाँ पर हम बताने वाले हैं कि Google Kaise Bolta Hai. अगर आपके मन में भी ये सवाल है कि गूगल कैसे बोलता है तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें, यहाँ पर बोल कर सर्च करने की सुविधा और इसे कैसे उपयोग करें की पूरी जानकारी भी दी गई है.

गूगल कैसे बोलता है | Google Kaise Bolta Hai

गूगल वॉइस सर्च एक Google उत्पाद है, जो उपयोगकर्ताओं को मोबाइल फोन या कंप्यूटर पर बोलकर गूगल सर्च का उपयोग करने की अनुमति देता है। यानी इंटरनेट या डिवाइस में क्या खोज करना है, इस बारे मे Text टाइप करके सर्च करने की बजाय बोल कर डिवाइस में किसी डेटा की खोज करना।

गूगल कैसे बोलता है (Google Kaise Bolta Hai) : गूगल स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर की मदद से बोलता है। स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर कंप्यूटर प्रोग्राम होता जिसे मानव भाषण के इनपुट को लेने, उसकी व्याख्या करने और उसे टेक्स्ट में ट्रांसक्रिप्ट करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। गूगल इसी टेक्नोलॉजी का उपयोग करके बोलता है।

Google Kaise Bolta Hai
Google Kaise Bolta Hai

शुरुआत में गूगल द्वारा इसे वॉयस एक्शन नाम दिया गया था, इसके द्वारा एंड्रॉइड फोन पर स्पीच कमांड देने की अनुमति दी गई थी। शुरू में यह केवल अमेरिकन अंग्रेजी के लिए उपलब्ध था, कुछ समय बाद इसमें ब्रिटिश और भारतीय अंग्रेजी के साथ फिलिपिनो, फ्रेंच, इतालवी, जर्मन और स्पेनिश भाषा को शामिल किया गया। पहली बार यह फ़ीचर एंड्रॉइड 4.1+ (जेली बीन) में Google Now के साथ मिला दिया गया था।

अगस्त 2014 में गूगल वॉइस सर्च में एक नई सुविधा जोड़ी गई, जिससे उपयोगकर्ता अधिकतम पांच भाषाएं चुन सकते हैं और ऐप स्वचालित रूप से बोली जाने वाली भाषा को समझ जाएगा। इस सर्विस के द्वारा कोई भी उपयोगकर्ता टाइप करने के बजाय वॉयस इनपुट का उपयोग कर उन चीजों को जल्दी और आसानी से खोज सकता है जो उसके लिए महत्वपूर्ण हैं या जिनके बारे में वो जानना चाहता है।

गूगल का स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर कैसे काम करता है

गूगल कैसे बोलता है (Google Kaise Bolta Hai) जानने के लिए आपको स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर कैसे काम करता है को जानना ज़रूरी है। स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर एक भाषण रिकॉर्डिंग के ऑडियो को अलग-अलग ध्वनियों में तोड़कर, प्रत्येक ध्वनि का विश्लेषण करके, उस भाषा में सबसे संभावित शब्द को फिट करने के लिए एल्गोरिदम का उपयोग करके और उन ध्वनियों को पाठ में ट्रांसक्रिप्ट करके काम करता है।

स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर natural language processing (NLP) और deep learning neural networksर् का उपयोग करता है। NLP कंप्यूटर के लिए स्मार्ट और उपयोगी तरीके से मानव भाषा का विश्लेषण करने, समझने और अर्थ निकालने का एक तरीका है। इसका मतलब यह है कि सॉफ्टवेयर भाषण को बिट्स में तोड़ देता है, जिसे वह व्याख्या कर सकता है, इसे डिजिटल प्रारूप में परिवर्तित कर सकता है, और सामग्री के टुकड़ों का विश्लेषण कर सकता है।

इसके बाद सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग और भाषण पैटर्न के आधार पर निर्धारण करता है, जिससे उपयोगकर्ता वास्तव में क्या कह रहा है और क्या चाहता है इसके बारे में अनुमान लगाता है। यह निर्धारित करने के बाद कि उपयोगकर्ताओं ने सबसे अधिक क्या कहा, सॉफ्टवेयर बातचीत को टेक्स्ट में बदल देता है।

यह सब काफी सरल लगता है, लेकिन प्रौद्योगिकी में प्रगति का मतलब है कि ये कई जटिल प्रक्रियाएं बिजली की गति से हो रही हैं। मशीनें वास्तव में मानव भाषण को मनुष्यों की तुलना में अधिक सटीक, सही ढंग से और जल्दी से पहचान कर नक़ल कर सकती हैं या उसका मतलब बता सकती हैं।

अब आप समझ चुके होंगे की गूगल कैसे बोलता है (Google Kaise Bolta Hai)। स्पीच रिकग्निशन नए जमाने की टेक्नोलॉजी है जिसका उपयोग दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

संक्षिप्त जानकारी – गूगल कैसे बोलता है

डेवेलपरगूगल
आरंभिक रिलीज20 मई 2012
उपलब्धताबहुभाषी (Multilingual)
प्रकारवॉइस के द्वारा सर्च करने की सुविधा मोबाइल और कम्प्यूटर के लिए।
अधिकारिक वेबसाइटwww.google.com/search/about/

एंड्रॉयड मोबाइल में वॉइस सर्च की सुविधा कैसे चालू करें

अगर आपके पास एंड्रॉयड मोबाइल है, तो आप उसमें आसानी से गूगल से बोल कर कुछ भी सर्च कर सकते हैं यानी गूगल वॉइस सर्च की सुविधा का उपयोग कर सकते हैं. Google Kaise Bolta Hai। के बारे में आप जान ही चुके हैं, अब इस सेट्टिंग से अपने मोबाइल में वॉइस सर्च की सुविधा चालू कर सकते हैं:

  • अपने Android फ़ोन या टैबलेट पर Google App खोलें.
  • सबसे नीचे Setting for Google Apps पर क्लिक करें.
  • अब सबसे नीचे दिए गए ‘Search, Assistant & Voice’ पर टैप करें.
  • इसके बाद Voice या Google Assistant पर क्लिक करें.
  • Voice Match पर टैप करें.
  • Hey Google चालू करें.
  • इसके बाद ज़रूरी Permission लेकर अपनी Voice Record करके मैच करें.

वॉइस सर्च का उपयोग कैसे करें

अगर आपने ऊपर बताए गए स्टेप्स का पालन करके गूगल के बोलने वाली सेट्टिंग यानी वॉइस सर्च को चालू कर दिया है, तो नीचे बताए गए स्टेप्स का पालन करके अब आप गूगल में वॉइस सर्च के द्वारा कुछ भी सर्च कर सकते हैं:

  • अपने Android फ़ोन या टैबलेट पर Google App खोलें.
  • Ok Google या Hey Google बोलें या माइक्रोफ़ोन पर टैप करें.
  • इसके बाद आप अपनी मर्ज़ी से कुछ भी बोल कर सर्च कर सकते हैं.

iPhone या iPad में वॉइस सर्च की सुविधा कैसे चालू करें

अगर आपके पास iPhone या iPad है, तो आप उसमें भी आसानी से गूगल से बोल कर कुछ भी सर्च कर सकते हैं। आइए जानते हैं iPhone या iPad में वॉइस सर्च की सुविधा कैसे चालू करें:

  • अपने iPhone या iPad पर Google App खोलें।
  • सबसे ऊपर दाईं ओर, अपनी प्रोफ़ाइल फ़ोटो या नाम के पहले अक्षर पर क्लिक करके सेटिंग में जाएँ और Voice and Assistant पर टैप करें।
  • आप यहां से, अपनी भाषा और “Ok Google” कहने पर वॉइस सर्च की सुविधा शुरू होने या न होने जैसी सेटिंग में बदलाव कर सकते हैं।

वॉइस सर्च का उपयोग कैसे करें

  • अपने iPhone या iPad पर Google App खोलें।
  • Ok Google या Hey Google बोलें या माइक्रोफ़ोन पर टैप करें।
  • इसके बाद आप अपनी मर्ज़ी से कुछ भी बोल कर सर्च कर सकते हैं।

गूगल में बोल कर आप कौन कौन से काम कर सकते हैं

गूगल का स्पीच रिकग्निशन सॉफ्टवेयर ‘गूगल असिसटेंट’ आपके फोन से जुड़े लगभग सभी काम करने में सक्षम है। इसके द्वारा आप सभी ज़रूरी काम कर सकते हैं जैसे –

  • म्यूज़िक कंट्रोल करना।
  • इंटरनेट से कोई जानकारी सर्च करना।
  • बोल कर मैसेज टाइप करना और भेजना।
  • कांटैक्ट नम्बर को टाइप किए बिना बोल कर कॉल लगाना।
  • अलार्म तथा टाइमर सेट करना।
  • मौसम की जानकारी।
  • ख़बरें पढ़ना।
  • मैप का इस्तेमाल।
  • यूटूब में वीडियो सर्च करना।
  • यात्रा और नेविगेशन के लिए बोलकर खोजने की सुविधा का इस्तेमाल करना।

इत्यादि इस तरह के कोई भी काम आप आसानी से गूगल में बोल कर कर सकते हैं। यह ऐसा ऐप है जो आपके सभी सवालों के जवाब दे सकता है। गूगल से पूछे जाने वाले सभी सवालों के 90% जवाब हमेशा सही आते है।

वॉइस सर्च की सुविधा और हमारी लाइफ़

टेक्नोलॉजी ने हमारी ज़िंदगी को बहुत आसान बना दिया है। जब से एंड्रॉयड मोबाइल आना शुरू हुए हैं उसमें नित-नई टेक्नोलॉजी जुड़ती जा रही हैं। गूगल का बोलना यानि स्पीच रिकग्निशन इसके Google Assistant के कारण मुमकिन हो पाया है। गूगल असिस्टेंट AI और स्पीच रिकग्निशन आधारित एक Voice-Controlled Smart Assistant है, जिसका इस्तेमाल आप मोबाइल और कम्प्यूटर जैसी सभी डिवाइस में कर सकते हैं।

गूगल असिस्टेंट से किसी भी प्रकार का प्रश्न पूछने पर यह कुछ ही सेकंड्स में जवाब देता है साथ ही यह आपके साथ व्यावहारिक बातें भी करता है, जिसके कारण यह असली Personal Assistant के जैसा अनुभव देता है।

कोई भी जानकारी के लिए इस्तेमाल – गूगल कैसे बोलता है

अगर आप कोई जानकारी गूगल या इंटरनेट से पाना चाहते हैं, तो इसके लिए आप गूगल वॉइस सर्च का उपयोग करें। जिससे की गूगल बोल कर आपको जवाब देगा। नीचे कुछ उदहारण देखें जिससे आपको पता चल सके की गूगल कैसे बोलता है और कौन-कौन से काम बोल कर सकता है:

  • मौसम की जानकारी : ‘दिल्ली का आज का मौसम कैसा रहेगा’
  • स्टॉक मार्केट की जानकारी : ‘TCS का स्टॉक प्राइस क्या है’
  • शब्दों का अर्थ : ‘चावल को इंग्लिश में क्या कहते हैं’
  • यूनिट कन्वर्ट करना : ‘1 किलोमीटर में कितने मीटर होते हैं’
  • गणित के सवाल : ‘200 का वर्गमूल क्या होता है’

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि यह पोस्ट ‘गूगल कैसे बोलता है (Google Kaise Bolta Hai)’ आपको पसंद आएगी और साथ ही पोस्ट को पढ़ कर आप जान चुके होंगे की गूगल कैसे बोलता है। इस लेख को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में ज़रूर शेयर करें और अन्य व्यक्तियों को Google Voice Search इस्तेमाल करने का तरीका सीखने में मदद करने के साथ ये जानने में मदद करने कि Google Kaise Bolta Hai. ऐसी स्पेशल जानकारी पाने के लिए Insta APK के साथ जुड़ें रहें।